एनसीएल में हुआ हाईड्रौलिक शोवेल का ई-उद्घाटन ककरी परियोजना के मशीनी बेड़े को मिली मजबूती।

Spread the love


11 क्यूबिक मीटर की हाईड्रौलिक शोवल

(मनीष सिंह रघुवंशी)

सिंगरौली – भारत सरकार की मिनिरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स, सिंगरौली में सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ककरी परियोजना में 11 क्यूबिक मीटर की हाईड्रौलिक शोवल का ई-उद्घाटन एनसीएल सीएमडी पी के सिन्हा ने किया। इस अवसर पर एनसीएल के निदेशक (कार्मिक) बिमलेन्दु कुमार, निदेशक(तकनीकी संचालन) डॉ॰ अनिंद्य सिन्हा, निदेशक(वित्त) राम नारायण दुबे भी उपस्थित रहे| इस अवसर पर सीएमडी एनसीएल प्रभात कुमार सिन्हा ने कह की, नई मशीनों के आने से कोयला उत्पादन के बढ़ते लक्ष्यों को पूरा करने में मदद मिलेगी एवं विश्वास जताया कि कोविड-19 महामारी के बाद भी इस वर्ष कंपनी लक्ष्य से अधिक उत्पादन करेगी। उन्होने कार्यस्थल पर कोविड-19 के चलते सावधानीपूर्वक कार्य करने को कहा एवं कठिन परिस्थितियों में भी लगातार उत्पादन लक्ष्य की ओर बढ्ने के लिए सभी कर्मियों को बधाई का पात्र बताया। निदेशक (कार्मिक) बिमलेन्दु कुमार ने कहा कि नई मशीनों के आने से हम वर्ष 2023-24 तक कोल इंडिया के 1 बिलियन टन कोयला उत्पादन लक्ष्य में अपना पूर्ण योगदान अच्छे से दे पाएंगे। निदेशक (तकनीकी संचालन) डॉ॰ अनिंद्य सिन्हा ने ककरी क्षेत्र को नई मशीन के लिए बधाई दी और विश्वास जताया कि क्षेत्र इसकी मदद से अपने लक्ष्यों को पूरा करेगा, व सुरक्षा के साथ उत्पादकता में भी वृद्धि होगी। निदेशक(वित्त) श्री राम नारायण दुबे ने कोरोना महामारी में नई तकनीकों के सहारे उद्घाटन पर हर्ष व्यक्त किया व उम्मीद जताई कि जल्द ही परिस्थितियां सामान्य हो जाएंगी। कार्यक्रम के अंत में महाप्रबंधक विभागाध्यक्ष (उत्तखनन) श्री संजय कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। इससे पूर्व कार्यक्रम का संचालन महाप्रबंधक ककरी क्षेत्र श्री वी. के अग्रवाल ने किया। ग़ौरतलब है कि बेहद ही आधुनिक तकनीकी से युक्त 11 क्यूबिक मीटर क्षमता बकेट की ये हाईड्रौलिक शोवल सभी सुरक्षा सुविधाओं से लैस है। जिसका उपयोग भविष्य में मुख्यतः अधिभार हटाने में किया जाएगा। एनसीएल के बढ़ते उत्पादन के साथ भविष्य में भारी एवं आधुनिक मशीनों की तैनाती से कंपनी सुरक्षा मानकों के साथ उत्पादन एवं उत्पादकता के सभी पैमानो पर खरी उतरेगी।

सिंगरौली लाइव

पैनी नज़र,पक्की ख़बर