*आस्था के महापर्व पर घाटों पर उमड़ा भगतों का सैलाब* *व्रती महिलाओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को दिया पहला अर्घ्य* *चाक-चौबंद दिखी सुरक्षा व्यवस्था*

Spread the love
अस्ताचलगामी सूर्य को दिया पहला अर्घ्य

सिंगरौली-
सूर्य की उपासना के महापर्व छठ के तीसरे दिन पूरे देश भर में धूमधाम से व्रती लोगों ने नदियों एवं घाटों में उतर कर डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य दिया। मोरवा में भी इसकी खासी रौनक दिखी। मोरवा छठ घाट, रेलवे स्टेशन के समीप बने घाट, झिगुरदा घाट व एनसीएल कॉलोनी स्थित घाट पर में भी स्थानीय लोगों ने छठ पर्व पर डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य देकर अपने पुत्र की दीर्घायु और परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। दोपहर बाद व्रती महिलाएं अपने परिवार संग घाटों पर प्रस्थान करने लगीं, परिजन सिर पर सूप व हाथों में गन्ना लिए व्रती महिलाओं संग घाटों पर पहुंचे। वहाँ पहुँच कर बनाए गए वेदी पर सूप रख कर छठ माता का घ्यान लगाया गया। सूर्य अस्त होने से पूर्व व्रती महिलाओं ने तालाब में स्नान कर डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया और फिर अपने वेदी स्थल पहुँच कर अपने अपने सूप पर घी के दीपक जलाकर छठ मईया का ध्यान लगा अपनी मन्नतें मांगी।

कोरोना संक्रमण के कारण इस बार छठ पूजा के लिए जिला प्रशासन द्वारा कई दिशानिर्देश जारी किये गए थे परंतु इस महापर्व को देखने के लिए भी स्थानीय लोगों का काफी हुजूम छट घाटों पर उमड़ा दिखा। मोरवा पुलिस बल, निगम अमला घाटों पर लोगों को समझाइश देने में जुटी रही पर इतने वृहद स्तर पर लोगों के घाटों पर पहुंचने के कारण सामाजिक दूरी का पालन नहीं हो सका। गौरतलब है कि कल खरना का प्रसाद चढ़ा और उसे खाकर व्रती महिलाओं ने 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू किया था। इसी क्रम में आज तीसरे दिन शुक्रवार शाम को महिलाओं ने छठ घाट पहुंचकर डूबते हुए सूरज को पहला अर्घ्य दिया एवं कल सुबह उगते हुए सूरज को अर्ध्य देकर व्रती महिलायें अपना व्रत समाप्त करेंगी। शुक्रवार दोपहर बाद से ही को मुहल्लों से लेकर घाटों तक छठ पूजा के पारंपरिक व कर्णप्रिय गीत गूंज रहे। 

एसडीओपी राजीव पाठक व मोरवा थाना प्रभारी निरीक्षक मनीष त्रिपाठी यातायात व्यवस्था को जहां सुगम बनाने में व्यस्त रहें वही शासन द्वारा निर्धारित मापदंडों पर भी पैनी नजर रखते हुए देखे गए

चाक-चौबंद दिखी सुरक्षा व्यवस्था
क्षेत्र के सभी छठ घाटों पर एसडीओपी राजीव पाठक व मोरवा निगर निरीक्षक मनीष त्रिपाठी पूरे दलबल के साथ यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए तत्पर दिखे। पूजा स्थल जाने के लिए सभी जगह पुलिस बल की भारी तैनाती की गई थी। जिसकी देखरेख स्वयं एसडीओपी व मोरवा टीआई कर रहे थे।

सिंगरौली लाइव

पैनी नज़र,पक्की ख़बर