*नाबालिग युवती के साथ सामूहिक दुराचार, सभी आरोपी 48 घंटे के भीतर गिरफ्तार* *बरगवां पुलिस की कार्यवाही*

Spread the love
गिरफ्तार आरोपी के साथ बरगवां थाना के सहायक उपनिरीक्षक सुरेंद्र यादव

सिंगरौली-
सिंगरौली जिले में एक बार फिर नाबालिका के साथ दुराचार का मामला प्रकाश में आया है, जहां गरीब आदिवासी महिला के साथ परिचित लोगों ने दुष्कर्म जैसे घृणित अपराध को अंजाम दिया है। पुलिस ने इस मामले में संजीदगी दिखाते हुए सभी आरोपियों को 48 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामला बरगवां थाना क्षेत्र के ग्राम दूधमनिया का बताया जा रहा है। जहां बीते सप्ताह दिनांक 12 तारीख को अनारकली देवी (परिवर्तित नाम) के धोखे से बुलाकर 3 लोगों ने बारी बारी अंजाम दिया। अल सुबह अपराधियों के चुंगल से छूटी पीड़िता ने घर आकर परिजनों को अपनी आप बीती बताई जहाँ गरीब व बीमार परिजनों ने इस मामले को दबाना चाहा परंतु अपने साथ दरिदंगी झेल चुकी नाबालिका की बात पर गुरुवार को बरगवां थाने में शिकायत दर्ज कराई। मामले की गंभीरता को देखते हुए बरगवां निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह ने पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार सिंह के निर्देशन व अनुविभागीय अधिकारी राजीव पाठक के मार्गदर्शन में अपराध पंजीबद्ध किया। इस मामले की विवेचना कर रही डीएसपी की महिला प्रकोष्ठ प्रियंका पांडे द्वारा गठित टीम ने तीनों आरोपी पप्पू साहू पिता मुन्नीलाल साहू उम्र 32 वर्ष निवासी दूधमनिया, रामलाल साहू पिता शीतल साहू उम्र 32 वर्ष निवासी पौड़ी 3 एवं शिवकुमार रजक पिता परमानंद रजक उम्र 26 वर्ष निवासी दूधमनिया को को अपराध क्रमांक 456/20 धारा 376, 376 (3)(डी), एसटी एससी एक्ट व पोस्को एक्ट के तहत गिरफ्तार पुलिस अभिरक्षा में न्यायालय में प्रस्तुत किया जेल भेज दिया गया है।
उक्त कार्यवाही में उपनिरीक्षक आर एच सोनकर, उपेंद्रमणि शर्मा, सहायक उपनिरीक्षक सुरेंद्र यादव, प्रधान आरक्षक उमेश अग्निहोत्री, आरक्षक विवेक सिंह एवं विजय की सराहनीय भूमिका रही।

सिंगरौली लाइव

पैनी नज़र,पक्की ख़बर