कलेक्टर ने देवसर बीईओ को दिया कड़ी चेतावनी शिक्षा विभाग के गतिविधियों का कलेक्टर ने किया समीक्षा

Spread the love

सिंगरौली 6 नवम्बर। शिक्षा विभाग के गतिविधियो की समीक्षा कलेक्टर राजीव रंजन मीना के अध्यक्षता में अटल सामुदायिक भवन बिलौंजी मे आयोजित हुई।
कलेक्टर श्री मीना ने उपस्थित समस्त प्राचार्यो, बीईओ, बीआरसी, सीएसी से कहा कि कि कोविड-19 महामारी के दौरान धैर्यता पूर्वक शिक्षण का कार्य कराया जा रहा है उसके लिए आप सब बधाई के पात्र है। कोविड-19 कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए शासन द्वारा निर्धारित गाईड लाईनो का शत-प्रतिशत पालन विद्यालयो में कराया जाना है शाला मे साफ -सफाई एवं मास्क अनिवार्य रूप से लगायें। बच्चों के माध्यम से इस आशय का एक वातावरण तैयार करे कि आम जन भी बिना मास्क के बाहर ना निकले। समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने निष्ठा प्रशिक्षण के तहत दी गई जानकारियो की वृहद रूप से समीक्षा करने के पश्चात निर्देश दिये कि सभी शिक्षको को निष्ठा प्रशिक्षण प्राप्त करना अनिवार्य है जो शिक्षक प्रशिक्षण के दौरान उपस्थित नही होते है उनके विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होंने नामांकन एवं ड्राप आउट के संबंध में समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि शत-प्रतिशत नामांकन का लक्ष्य सात दिन मे समस्त प्राचार्य, बीईओ, बीआरसी, सीएसी पूर्ण कराया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री मीना ने छात्रवृत्ति के असफल भुगतान वाले बैंक खातों का सुधार नही करने वाले प्राचार्यो के प्रति अप्रसन्नता व्यक्त करते हुये सात दिवस में शत-प्रतिशत खातो का सत्यापन कराये जाने का निर्देश दिया गया। बैठक में बीईओ देवसर को कार्य पूर्ण नही करने पर चेतावनी देते हुये कार्यो को पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। कलेक्टर श्री मीना ने कहा कि विगत वर्ष जिले में चलाये गये प्रोजेक्ट उड़ान के कारण हाई स्कूल एवं हायर सेकन्ड्री का बेहतरीन परिणाम मिला था जिसके लिए आप सब बाधाई के पात्र है। आगे भी हमे इससे भी अच्छा परिणाम लाने हेतु प्रयास करना होगा, ताकि जिले का परिणाम प्रदेश मे पहले स्थान पर रहे। कलेक्टर ने नि:शुल्क गणवेश पाठ्य पुस्तक वितरण की विस्तृत समीक्षा की गई। बैठक में डीईओ पीएन सिंह, डीपीसी आरके दुबे, प्रोग्रामर विवेक मिश्रा, प्राचार्य, बीईओ, बीआरसी, सीएसी व अन्य उपस्थित रहे।

सिंगरौली लाइव

पैनी नज़र,पक्की ख़बर