*सिंगरौली मध्यप्रदेश की धड़कन है- शिवराज* *28 वर्ष से बहुप्रतीक्षित सिंगरौलिया हवाई पट्टी का मुख्यमंत्री ने वर्चुअली किया शिलान्यास* *35 करोड़ लागत से निर्मित हवाई पट्टी जून तक होगा तैयार*

Spread the love

सिंगरौली-
         सिंगरौली मध्यप्रदेश का ना केवल पावर हब बल्कि प्रदेश की धड़कन है। जिले के समग्र  विकास के लिए कनेक्टिविटी जरूरी है। सड़क रेलवे के बाद  हवाई पट्टी के निर्माण से विकास के नए आयाम स्थापित होंगे। 
       
     उक्ताशय के उद्गार प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हैं जिसे उन्होंने आज जिले के सिंगरौलिया में  बनने जा रहे  बहुप्रतीक्षित हवाई पट्टी का वर्चुअली शिलान्यास करने के दौरान व्यक्त किया। मुख्यमंत्री श्री  चौहान ने आगे कहा कि सिंगरौली में कनेक्टिविटी व्यवस्था को सुदृढ़ करने हवाई पट्टी के साथ सीधी-सिंगरौली राष्ट्रीय मार्ग व रेलवे लाइन जैसे रुके हुए कार्यो को बहुत जल्द पूरा कराएंगे जिससे सिंगरौली का समुचित विकास हो सके। श्री चौहान ने कहा कि सिंगरौली की जनता उनके दिल व आत्मा में बसती है। सिंगरौली  ने हमेशा जनादेश देकर हमपे भरोसा किया है उनके भरोसे को वह कभी नही तोड़ेंगे और जिले का समग्र विकास करेंगे।

*सीधी-सिंगरौली मार्ग को दिए  425 करोड़*

उद्बोधन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विकास के लिए कनेक्टिविटी बहुत जरूरी है हवाई पट्टी के साथ सीधी-सिंगरौली राष्ट्रीय मार्ग पूरा करेंगे। कहा मरम्मत के लिये 16 करोड़ देने के बाद मार्ग के रुके हुए निर्माण कार्य को पूरा करने 425 करोड़ रुपये दे दिया। साथ ही रेलवे लाइन के साथ माइनिंग , मेडिकल व इंजीनियरिंग कालेज का भी जल्द निर्माण कार्य शुरू होंगे। निश्चित रूप से कनेक्टिविटी व अन्य रुके कार्यों को पूरा होने से सिंगरौली में विकास के नए आयाम स्थापित होंगे।

*सिंगरौली को सिंगापुर बनाने की घोषणा दोहराया*
हवाई पट्टी शिलान्यास के दौरान श्री चौहान ने कहा कि सिंगरौली सबसे तेजी से बढ़ने वाला प्रदेश का नगर है। सिंगरौली को सिंगापुर बनाने की बात को फिर दोहराते हुए श्री चौहान ने कहा कि वह सिंगरौली के चहुमुखी विकास के लिए संकल्पित है।इस दौरान श्री चौहान ने स्वीकार किया कि रोजगार सिंगरौली की एक बड़ी समस्या है जिसे दूर करने बहुत जल्द 70% स्थानीय लोगों को रोजगार मिले इसका पुख्ता इंतजाम करेंगे।

*28 वर्ष बाद हुआ शिलान्यास- कंपनियों ने किया सहयोग*

गौरतलब हो कि सिंगरौलिया हवाई पट्टी के निर्माण की प्रक्रिया 28 वर्ष पूर्व 1988 में शुरू हुई थी लेकिन कभी भू अर्जन में अड़चन तो कभी सरकारों के बदलने से हवाई पट्टी की बहुप्रतीक्षित कार्य पेंडिंग था। लगभग 80 एकड़ जमीन हवाई पट्टी के लिए अर्जित की गई है जिसके निर्माण के लिए  एनसीएल ने 17 करोड़, आंध्र कोल माइंस ने 1 करोड़ 25 लाख व सिंगरौली माइनिंग विभाग ने 16 करोड़ 73 लाख राशि दी है।

*पीएम भगवान के वरदान*

केंद्र सरकार के कृषि कानून के विरोध में देशभर में लामबंद किसानों पर बोलते हुए श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भगवान के अवतार हैं। उन्होंने जो कृषि कानून बनाया है उससे किसानों को सीधे फायदा होगा। नए कानून से किसान मंडी के अलावा जहाँ उन्हें ज्यादा कीमत मिलेगा वहां अपनी अनाजों को बेच सकेंगे। इस कानून से बिचौलिया हटेंगे। इस कानून से उत्पादन के दाम बढ़ेंगे और यह कानून किसानों के हित मे है। इस दौरान  विपक्षी पार्टियों को आड़े हाथ लिया।

*ये रहे उपस्थित*

सिंगरौलिया हवाई पट्टी शिलान्यास कार्यक्रम में जहाँ मध्यप्रदेश शासन लोनिवि मंत्री गोपाल भार्गव ने वर्चुअली कार्यक्रम की अध्यक्षता किया तो वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में सीधी-सिंगरौली सांसद रीती पाठक, सिंगरौली विधायक राम लल्लू बैस, देवसर विधायक सुभाष रामचरित्र वर्मा, चितरंगी विधायक अमर सिंह, कलेक्टर राजीव रंजन मीणा ,  एसपी
वीरेंद्र कुमार सिंह सहित जिला प्रशासनिक अमला  व  भाजपा के भारी संख्या पदाधिकारी, कार्यकर्ता व जनता जनार्दन मौजूद रही।

सिंगरौली लाइव

पैनी नज़र,पक्की ख़बर